भगवान शिव का प्रिय फल धतुरा हमारी सेहत के लिए होता है बहुत फायदेमंद

0
418

हम ठोस फूलों और पौधों से घिरे हैं जिनका धार्मिक महत्व के साथ-साथ स्वास्थ्य लाभ भी है। दातुरो भी फल में शामिल है। हिंदू धर्म में धतूरे का फल महादेव को चढ़ाया जाता है। यह एक आम जंगली पौधे पर होता है। इस पौधे का फल महादेव को बलि के रूप में चढ़ाया जाता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह पूजनीय होने के साथ-साथ सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। इसका उपयोग कई आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों को बनाने के लिए किया जाता है। आयुर्वेद में इस फल को विष की श्रेणी में रखा गया है। इसका सही तरीके से उपयोग करने से शरीर की कई बीमारियों को ठीक किया जा सकता है।

https://www.newslable.com/wp-content/uploads/2021/09/35-3.jpg

डैंड्रफ से पाएं छुटकारा
– जिन महिलाओं के बाल झड़ रहे हैं और उनकी वजह से गंजे हो गए हैं, उनके लिए धतूरे के बीज बहुत फायदेमंद होते हैं। जी हां धतूरे का तेल लगाने से बाल गंजेपन में आ सकते हैं।

बाल की समस्या
– बालों में कोई भी समस्या हो तो धतूरे के फलों का रस लगाने से काफी आराम मिलता है।चाय के लिए धतूरे के फलों का रस निकालकर सिर पर कुछ देर लगाएं और फिर साफ पानी से धो लें। इस उपाय को लगातार 1 हफ्ते तक करने से आपको जो फायदा होगा वो आपको मिलेगा आपके बाल भी मजबूत होंगे।

https://www.newslable.com/wp-content/uploads/2021/09/36-3.jpg

मिर्गी की समस्या
– जब भी किसी व्यक्ति को मिर्गी होती है तो उसे शांत करने के लिए चप्पल सूंघी जाती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि धतूरे के पौधे की जड़ को सूंघने पर भी वह शांत हो जाता है।

घाव भरने के लिए
– धतूरे के पत्ते का लेप बनाकर प्रभावित जगह पर लगाकर पट्टी बांधने से घाव जल्दी भर जाएगा और अब जब भी कुछ दर्द हो तो धतूरे का प्रयोग करें।

सूजन कम करने के लिए
– शरीर के किसी हिस्से में सूजन हो तो धतूरे के पत्तों को थोड़ा सा भूनकर सूजन वाली जगह पर बांध दें। इसके अलावा आप धतूरे के पत्ते, फल, फूल, छाल, तना, जड़ का भी प्रयोग कर सकते हैं। इन सबको मिलाकर तेल में डालिये और तेल को ठंडा होने तक छान लीजिये, अब आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं और जहां दर्द हो वहां मालिश कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here