उड़ने के लिए हो जाइये तैयार, आ रही है सबसे सस्ती एयरलाइन ‘आकाश एयर’

0
451

सरकार ने राकेश झुनझुनवाला समर्थित आकाश एयर को भारत में परिचालन की मंजूरी दे दी है।आकाश एयर के निदेशक मंडल में इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष भी हैं। एयरलाइन की योजना अगले चार वर्षों में लगभग 70 विमानों के परिचालन की है।

नयी दिल्ली। नागर विमानन मंत्रालय ने राकेश झुनझुनवाला समर्थित नयी एयरलाइन आकाश एयर के भारत में परिचालन के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) दे दिया है। कंपनी के एक बयान में सोमवार को यह जानकारी दी। होल्डिंग कंपनी, एसएनवी एविएशन प्राइवेट लिमिटेड ने कहा कि नयी एयरलाइन का लक्ष्य वर्ष 2022 की गर्मियों तक परिचालन शुरू करने का है।

आकाश एयर को दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला और जेट एयरवेज के पूर्व सीईओ विनय दूबे का समर्थन प्राप्त है। बयान में आकाश एयर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी- दूबे के हवाले से कहा गया है, ‘‘हम नागर विमानन मंत्रालय द्वारा दिये गये समर्थन और एनओसी को लेकर बेहद खुश और आभारी हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम आकाश एयर को सफलतापूर्वक शुरू करने के लिए आवश्यक सभी नियमों के अनुपालनों को लेकर नियामकीय प्राधिकरणों के साथ काम करना जारी रखेंगे।’’

आकाश एयर के निदेशक मंडल में इंडिगो के पूर्व अध्यक्ष आदित्य घोष भी हैं। एयरलाइन की योजना अगले चार वर्षों में लगभग 70 विमानों के परिचालन की है। एयरबस के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी क्रिश्चियन शेरेर ने पिछले हफ्ते बताया कि एयरबस एक विमान खरीद सौदे के लिए आकाश के साथ बातचीत कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अक्टूबर को भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में बहुत आशावादी दृष्टिकोण रखने वाले झुनझुनवाला से मुलाकात की थी।

मोदी ने ट्वीट किया था, ‘‘अपने आप में अनोखे राकेश झुनझुनवाला से मिलकर खुशी हुई… जीवंत, व्यावहारिक और भारत को लेकर बहुत आशावादी।’’ आठ अक्टूबर को इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2021 में प्रधानमंत्री के साथ उनकी मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर, झुनझुनवाला ने ज्यादा कुछ बताए बिना कहा था कि उन्होंने अर्थव्यवस्था के बारे में बात की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here